डेविड मालपास

डेविड मालपास

वर्ल्ड बैंक समूह के अध्यक्ष

This page in:

पांच अप्रैल, 2019 को वर्ल्ड बैंक के कार्यकारी निदेशक मंडल ने डेविड मालपास को वर्ल्ड बैंक समूह का 13वां अध्यक्ष चुना था। इसके बाद नौ अप्रैल, 2019 से उन्होंने पांच साल का अपना कार्यकाल शुरू किया। मालपास इससे पहले संयुक्त राज्य अमेरिका में डोनाल्ड ट्रंप के प्रशासन में वित्त विभाग में अंतरराष्ट्रीय मामलों के उप मंत्री थे।

उपमंत्री के तौर पर मालपास ने अंतर्राष्ट्रीय बैठकों, जी -7 और जी -20 उप वित्त मंत्री स्तरीय, विश्व बैंक-आईएमएफ़ स्प्रिंग और वार्षिक बैठकें, और वित्तीय स्थिरता बोर्ड, आर्थिक सहयोग और विकास सगंठन और ओवरसीज़ प्राइवेट इंवेस्टमेंट कॉरपोरेशन की बैठकों में अमेरिका का प्रतिनिधित्व किया है। 2018 में, मालपास ने आईबीआरडी और आईएफसी के लिए पूंजी वृद्धि के लिए एक बड़े सुधार एजेंडे के हिस्से के रूप में सतत ऋण व्यवस्था और पूंजी के कुशल उपयोग और ग़रीब देशों में जीवन स्तर में सुधार पर ध्यान केंद्रित करने की वकालत की थी।

ऋण की सार्वजनिक पारदर्शिता को बढ़ाने और इस तरह ऋण संकट की आवृत्ति और गंभीरता को कम करने के लिए वर्ल्ड बैंक और आईएमएफ द्वारा अपनाई गई ऋण पारदर्शिता पहल को आगे बढ़ाने में भी उनकी महत्वपूर्ण भूमिका थी। उप मंत्री बनने से पहले, मालपास एक अंतरराष्ट्रीय अर्थशास्त्री थे। वे न्यूयॉर्क शहर में स्थित एक मैक्रो इकॉनॉमिक्स रिसर्च फ़र्म के संस्थापक थे। मालपास ने बेयर स्टर्न्स में मुख्य अर्थशास्त्री के रूप में कार्य किया और दुनिया भर के देशों का वित्तीय विश्लेषण किया।

इससे पहले अपने करियर में मालपास अमेरिकी वित्त विभाग में विकासशील राष्ट्रों के उप सहायक मंत्री और लैटिन अमेरिकी आर्थिक मामलों के लिए उप सहायक मंत्री के रूप में कार्य कर चुके थे।

इन भूमिकाओं में, उन्होंने बहुराष्ट्रीय संस्थानों में संयुक्त राज्य की भागीदारी सहित विदेश नीति और विकास के मुद्दों की एक श्रृंखला पर ध्यान केंद्रित किया था जिसमें विश्व बैंक की 1988 की पूंजी वृद्धि, जिसके तहत बैंक के पर्यावरण प्रभाग के निर्माण का समर्थन किया था। इसके अलावा अमेरिकी इनिशिएटिव के लिए उद्यम और लैटिन अमेरिकी ऋण संकट से निपटने के लिए ब्रैडी बांड भी उनकी देन रही है। वे अमेरिकी सीनेट की  बजट समिति में कर और व्यापार के वरिष्ठ विश्लेषक और अमेरिकी कांग्रेस की संयुक्त आर्थिक समिति के स्टाफ़ निदेशक के रूप में भी काम कर चुके हैं।

मालपास काउंसिल ऑफ़ द अमेरिका, इकोनॉमिक क्लब ऑफ़ न्यूयॉर्क, नेशनल कमेटी ऑन यूएस-चाइना रिलेशंस, मैनहट्टन इंस्टीट्यूट और गैरी क्लिंस्की चिल्ड्रन सेंटर्स के साथ-साथ विभिन्न लाभकारी संस्थाओं के बोर्ड में काम कर चुके हैं। वह आर्थिक विकास के सभी पहलुओं पर कई लेखों के लेखक हैं।

डेविड मालपास ने कोलोराडो कॉलेज से स्नातक की उपाधि प्राप्त की और डेनवर विश्वविद्यालय से एमबीए किया है। वह एक सीपीए थे और जॉर्ज टाउन विश्वविद्यालय में विदेश सेवा के स्कूल में अंतरराष्ट्रीय अर्थशास्त्र में उच्च स्नातक की पढ़ाई की और साथ ही स्पेनिश, रूसी एवं फ्रेंच का अध्ययन किया है।

मालपास और उनकी पत्रकार पत्नी एडेल मालपास वाशिंगटन डीसी में रहते हैं। उनके चार बच्चे हैं और विकास के मुद्दों में उनके पूरे परिवार की दिलचस्पी है।